December 11, 2023
Shatrughan Ki Patni Ka Naam

शत्रुघ्न की पत्नी का नाम क्या था ? – Shatrughan Ki Patni Ka Naam

Shatrughan Ki Patni Ka Naam :- लगभग सभी देश मे रहने वाले हिंदुओं ने रामायण पढ़ा है या सुना है। लेकिन रामायण में अक्सर हम केवल श्री राम सीता या लक्ष्मण जी की ही ओर ध्यान देते हैं।

लेकिन रामायण में श्री राम के भाई शत्रुघ्न भी थे और आज भी कई लोग या नहीं जानते हैं, कि shatrughan ki patni ka naam क्या था और उनका जीवन कैसा था। इसीलिए आज के इस लेख में हम इसी विषय पर चर्चा करने वाले हैं।

इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे की shatrughan ki patni ka naam क्या था। साथ ही हम शत्रुघ्न के पुत्र के नाम के बारे में भी जानकारी प्राप्त करेंगे।


शत्रुघ्न कौन थे ?

आइए शत्रुघ्न की पत्नी का नाम जानने से पहले हम शत्रुघ्न के चरित्र को समझते हैं। श्रीराम के ही सबसे छोटे भाई थे। इनके पिता श्री दशरथ और माता सुमित्रा थी। शत्रुघ्न के दूसरे भाई भरत और लक्ष्मण भी थे। और शत्रुघ्न लक्ष्मण जी के ही जुड़वा भाई थे।

इसके अलावा यह भी माना जाता है की जिस तरह श्री राम विष्णु जी के अवतार थे उसी प्रकार शत्रुघ्न श्री विष्णु जी के सुदर्शन चक्र के अवतार थे, जोकि विष्णु जी का प्रमुख अस्त्र था।


शत्रुघ्न की पत्नी का नाम क्या था ? – shatrughan ki patni ka naam

शत्रुघ्न की पत्नी का नाम श्रुत्कीर्ति था। उनकी पत्नी और कोई नहीं बल्कि माता सीता की चचेरी बहन ही थी। श्रुत्कीर्ति के पिता राजा कुशलध्वज और माता रानी चंद्रभागा थी।

राजा कुछ ध्वज माता सीता के पिता जनक के भाई थे और इनकी बेटी श्रुत्कीर्ति से ही शत्रुघ्न जी का विवाह संपन्न हुआ था।

शत्रुघ्न की पत्नी श्रुत्कीर्ति अपनी असाधारण सुंदरता, बुद्धिमत्ता और अपने पति के प्रति समर्पण के लिए जानी जाती थी। उन्होंने कई चुनौतियां का सामना किया और कई परीक्षणों के बावजूद भी वह अटूट निष्ठा के साथ शत्रुघ्न जी के पक्ष में खड़ी रहे।


शत्रुघ्न के पुत्र का नाम क्या था ?

शत्रुघ्न के 2 पुत्र थे जिनका नाम शुबाहु और शत्रुघाती था। हालांकि इन दोनों ही पुत्रों का जिक्र रामायण में अधिक नहीं किया गया है। लेकिन कुछ जगहों पर इन दोनों पुत्रों का जिक्र किया गया है।

मथुरा में शत्रुघ्न के पुत्र शुबाहु का और भेलसा (विदिशा) में शत्रुघ्न के दूसरे पुत्र शत्रु हाथी का शासन था। यानी कि मथुरा और भीलसा के राजा शुबाहु और शत्रुघाती बने।


रामायण में शत्रुघ्न की भूमिका क्या थी ?

हालांकि रामायण में शत्रुघ्न जी के बारे में अधिक महत्वपूर्ण चीजें नहीं बताई गई है लेकिन शत्रुघ्न और उनकी पत्नी श्रुत्कीर्ति जी ने भी वनवास काटा था। श्री राम जी के वनवास जाने के बाद लक्ष्मण जी भी उनके साथ वनवास चल दिए थे।

उसके बाद भरत जी भी ग्लानि से भर उठे थे और उन्होंने रामजी की चरण पादुका को राज सिंहासन पर रख दिया था और खुद नंदी कुटिया में रहने चले गए थे।

इसके बाद शत्रुघ्न जी ने ही अयोध्या राज्य को संभाला था और श्री राम जी के लौटने तक उसे सुरक्षित रखा। साथ ही शत्रुघ्न जी भी राजमहल में नहीं रहते थे। वह भरत जी के साथ नंदी कुटिया में ही रहते थे और उनकी देखभाल किया करते थे।

इसके अलावा वह अपनी माताओं का देखभाल करने के लिए कभी-कभी राजमहल में जाया करते थे। तो इस तरह से शत्रुघ्न भी वनवास का ही जीवन व्यतीत कर रहे थे।


रामायण में शत्रुघ्न की पत्नी का जीवन

हम सब या तो जानते ही हैं कि माता सीता और श्री राम जी ने साथ में मिलकर वनवास काटा था लेकिन शत्रुघ्न की पत्नी ने अकेले वनवास काटा था। क्योंकि शत्रुघ्न जी कभी भी अपनी पत्नी के पास नहीं जाया करते थे, बल्कि वह भरत जी के पास ही रहा करते थे और कभी-कभी राजमहल की देखभाल करने के लिए राजमहल आया करते थे।

ऐसे में शत्रुघ्न जी की पत्नी भी अकेले पड़ गई थी और वह भी भोग विलास से मुक्ति पा चुकी थी।


रामायण में शत्रुघ्न जी से संबंधित पांच मुख्य बातें

शत्रुघ्न की पत्नी का नाम जान लेने के पश्चात आइए शत्रुघ्न जी के बारे में कुछ खास बातों के बारे में जानते हैं।

  1. शत्रुघ्न जी को जब पता चला था कि मंथरा ने ही कैकई को भड़काया था और इसी के कारण श्री राम को वनवास हुआ है तो उन्होंने मंथरा की लात मारकर कूबड़ तोड़ दी थी।
  2. शत्रुघ्न जी अपने भाई भरत के सेवक बन गए थे जब राम जी वनवास चले गए थे। शत्रुघ्न जी ने अपनी पत्नी को छोड़कर केवल राजकाज को संभाला और भरत जी की सेवा की।
  3. शत्रुघ्न जी ने मथुरा राज्य का स्थापना किया था जिसे हम मधुबन ग्राम के नाम से भी जानते हैं।
  4. जब श्री राम जी अयोध्या से वापस लौट आए थे तब प्रजा की शिकायत थी कि मथुरा का राजा लवणासुर उनको काफी परेशान करता है। तो ऐसे में शत्रुघ्न जी ने ही लवणासुर की हत्या की थी और मधुपुरी के स्थान पर मथुरा की नगरी बसाई थी।
  5. शत्रुघ्न जी अपने जीवन के आखिरी समय में ऋषिकेश तपस्या करने चले गए थे और वहीं पर उन्होंने अपना देह त्याग किया था।

FAQ’S:-

Q1. शत्रुघ्न कहां के राजा थे ?

Ans. शत्रुघ्न जी ने मथुरा राज्य की स्थापना की थी और वही के राजा बने थे। लेकिन बाद में शत्रुघ्न जी अयोध्या आ गए थे 
और अपने दोनों पुत्रों को मथुरा राज्य संभालने के लिए दे दिया था।

Q2. शत्रुघ्न किसके अवतार थे ?

Ans. पुराणों में लिखा गया है, कि शत्रुघ्न जी भगवान विष्णु के मुख्य अस्त्र सुदर्शन चक्र के अवतार थे।

Q3. भरत और शत्रुघ्न की पत्नी का नाम क्या था ?

Ans. भरत की पत्नी का नाम मांडवी और शत्रुघ्न की पत्नी का नाम श्रुत्कीर्ति था।

Q4. रामायण में अनु शत्रुघ्न की पत्नी कौन थी ?

Ans. रामायण में अनु शत्रुघ्न की पत्नी श्रुत्कीर्ति थी।

Q5. शत्रुघ्न की माता का नाम क्या था ?

Ans. शत्रुघ्न की माता का नाम सुमित्रा था।

Q6. लक्ष्मण जी की पत्नी कौन है ?

Ans. लक्ष्मण जी की पत्नी का नाम उर्मिला था।

निष्कर्ष :- 

आज के इस लेख में हमने जाना, कि shatrughan ki patni ka naam क्या था? उम्मीद है कि इस लेख के माध्यम से आपको शत्रुघ्न एवं उनकी पत्नी के जीवन से संबंधित कई जानकारियां मिल पाई होंगी।

यदि आप इसी प्रकार किसी अन्य धार्मिक ग्रंथ एवं उनके नायकों के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं। यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने अन्य दोस्तों के साथ भी जरूर साझा करें। जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।


Also Read :- 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *