July 22, 2024
Awara Masiha Kis Vidha Ki Rachna Hai

आवारा मसीहा किस विधा की रचना है ? – Awara Masiha Kis Vidha Ki Rachna Hai

Awara Masiha Kis Vidha Ki Rachna Hai :- वर्तमान समय में हम सभी लोग जो भी हिंदी की किताबें पढ़ते हैं, तो हमें कई प्रकार की विधाएं पढ़ने को मिलती हैं, ऐसे में आज हम आपको इस लेख के माध्यम से एक बहुत ही प्रसिद्ध रचना जो कि विष्णु प्रभाकर जी द्वारा रचित है, हम उसी रचना के बारे में चर्चा करने वाले हैं  कि उनकी रचना आवारा मसीहाकिस विधा की रचना है ? , इस सवाल का जवाब जानने के लिए अगले पैराग्राफ को पढ़ें।

Awara Masiha Kis Vidha Ki Rachna Hai ? आवारा मसीहा जीवनी विधा की एक रचना है, जो की बहुत ही महिला एवं सीखने योग्य रचना है, यदि आप आवारा मसीहा से जुड़ी जानकारियां विस्तार पूर्वक प्राप्त करना चाहते हैं, जैसे कि आवारा मसीहा क्या है ? जीवनी क्या होती है ? इत्यादि के विषय में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो हमारे द्वारा लिखे गए इसलिए को अंत तक अवश्य पढ़ें।


आवारा मसीहा किस विधा की रचना है ? ( Awara Masiha Kis Vidha Ki Rachna Hai ? )

आवारा मसीहा जीवनी विधा की रचना है, यह रचना हिंदी की किताबों में अक्सर देखने को या फिर पढ़ने को मिलता है इस रचना को विष्णु प्रभाकर जी ने लिखा है, वर्तमान समय में या रचना बहुत ही प्रसिद्ध हो चुकी है और इस रचना से जुड़े कई सवाल हमें इंटरनेट या किताबों में देखने को मिल जाते हैं।


आवारा मसीहा का क्या अर्थ होता है ?

यदि कोई व्यक्ति के जीवन में कोई रास्ता अर्थात जब भी किसी व्यक्ति के जीवन में कोई भी दिशा नहीं होती है, तब उस व्यक्ति को लोग आवारा कहते हैं, लेकिन वही जब उस व्यक्ति को अपने जीवन की दिशा के बारे में ज्ञान हो जाता है एवं वह अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अग्रसर होता है, तो हम उसे आवारा मसीहा के नाम से पुकार सकते हैं।


जीवनी क्या होती है ?

जब भी कोई लेखक या कोई कभी किसी एक व्यक्ति के बारे में उसके जीवन की सभी घटनाओं जैसे कि उसके जन्म से लेकर उसकी शिक्षा से लेकर उसके मृत्यु तक की सभी घटनाओं का वर्णन करता है तो ऐसी रचनाओं को जीवनी कहते हैं।


हिंदी में कौनकौन सी विधा होती है ?

हिंदी में बहुत सी विधाएं हैं, और हर विधा की अलग-अलग लेखनी होती है तथा प्रत्येक विधा की अपनी खासियत भी होती है तो हमने कुछ विधाएं के नाम एवं उनके बारे में कुछ जानकारियां बताया है, जो निम्नलिखित है :-

  • आत्मकथा

आत्मकथा उसे कहते हैं, जब भी कोई लेखक अपने जीवन के ऊपर अपने जीवन की सभी कथाएं जैसे कि उनका जन्म कहां हुआ, उनकी शिक्षा दीक्षा कैसे हुई, उनके जीवन में कौन-कौन सी बाधाएं आई, इत्यादि जैसे घटनाओं का वर्णन आत्मकथा में किया जाता है, अर्थात हम यह भी कह सकते हैं, कि आत्मकथा में कोई भी लेखक अपने जीवन के ऊपर एक कथा लिखता है, जिसे आत्मकथा कहते हैं।

  •  यात्रावृतांत 

यात्रावृतांत वह विधा है जिसमें किसी स्थान से बाहर आए हुए व्यक्ति या व्यक्तियों के अनुभव के बारे में लिखा होता है, तो इस प्रकार के वृतांत को यात्रावृतांत कहते हैं।

  • नाटक

इस विधा का यह अर्थ यह है, कि ऐसी रचना जो ना केवल श्रवण मात्र पल की दृष्टि दर्शन से भी दर्शकों को आनंद प्राप्त करवाती है, एसएस नए नाटक या दृश्य काव्य कहलाती है

  • निबंध

निबंध लेखन एक ऐसा औपचारिक टुकड़ा है, जिसकी सहायता से हम पाठक को मनाने की कोशिश करते हैं तथा यह एक ही विषय से संबंधित है।

  •  एकांकी

एकांकी ऐसी रचना होती है, जिसमें केवल एक ही कथा होती है परंतु उसमें एक से अधिक पात्र होते हैं और उनमें सभी पात्रों का वर्णन भी दिया होता है।

  •  उपन्यास

ऐसी वस्तु या कृति जिसको पढ़कर पाठक को ऐसा लगे किवा रचना यकृत उसी के लिए की गई है, यह कथा उसी के जीवन की है अर्थात उपन्यास मानव जीवन की काल्पनिक कथा है।

अन्य विधाएं : –

  • गद्य काव्य
  • जीवनी 
  • रिपोर्ताज
  • डायरी
  •  रेखा चित्र
  •  संस्मरण
  • पत्र साहित्य
  •  भेंटवार्ता
  • व्यंगय
  •  लघु कथा
  •  कॉमेडी
  •  गल्प
  • विज्ञान कथा
  • पुस्तक समीक्षा या पर्यालोचन

FAQ’S :-

Q1. आवारा मसीहा किस विधा की रचना है ?

Ans :- आवारा मसीहा जीवनी विधा की रचना है।

Q2. आवारा मसीहा रचना किसके जीवन पर आधारित है ?

Ans :- इसकी रचना एक उपन्यासकार शरतचंद्र के जीवन पर आधारित है।

Q3. आवारा मसीहा को लिखने में कितना समय लगा था ?

Ans :- आवारा मसीहा को लिखने में लगभग 14 वर्ष का समय लगा था।

Q4. आवारा मसीहा यह किताब कब प्रकाशित हुई ?

Ans :- आवारा मसीहा का प्रकाशन श्री विष्णु प्रभाकर जी के द्वारा मार्च में सन 1974 में किया गया था।

Q5. आवारा मसीहा के कितने पर्व हैं ?

Ans :- आवारा मसीहा को तीन खंडों में विभक्त किया गया है।

निष्कर्ष :-

हम आप सभी लोगों से उम्मीद करते हैं, कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया आज का यह महत्वपूर्ण लेख (आवारा मसीहा किस विधा की रचना है?) अवश्य ही पसंद आया होगा।

आज के इस लेख में हमने आपको आवारा मसीहा से संबंधित जानकारियां प्रदान कराई है। यदि आपका हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिलकुल भी ना भूले और यदि आपके मन में इस लेख को लेकर किसी भी प्रकार का कोई सवाल या सुझाव है, तो कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं।


Read Also :- 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *